breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Mukul Roy rejoin TMC:बंगाल में BJP को छोड़,लौटकर मुकुल रॉय TMC के घर आएं

ममता बनर्जी ने मुकुल रॉय की टीएमसी में वापसी का खुले दिल से स्वागत करते हुए कहा कि अभी तो भाजपा से और अधिक लोग बाहर निकलेंगे और वापस तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे...

कोलकाता:Mukul Roy rejoin TMC-left BJP-बंगाल में बीजेपी का दामन छोड़, लौटकर मुकुल रॉय(Mukul Roy)अपने घर यानि तृणमुल कांग्रेस में वापस आ गए है।

बीते चार सालों से बंगाल बीजेपी में अखिल भारतीय उपाध्यक्ष और विधायक रहे मुकुल रॉय ने शुक्रवार को पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की पार्टी टीएमसी को एक बार फिर से ज्वाइन कर लिया(Mukul Roy rejoin TMC-left BJP)है।

चार साल पहले मुकुल रॉय ने TMC को छोड़कर BJP का भगवा चोला ओढ़ लिया था।

अब पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी(west Bengal CM Mamata Banerjee)की फिर से शानदार जीत के बाद मुकुल रॉय ने भी अपने घर टीएमसी में वापसी कर ली(Mukul Roy rejoin TMC-left BJP) है।

इससे बंगाल बीजेपी के सोनार बांग्ला सपने को बड़ा धक्का लगा है।

तकरीबन चार साल बाद मुकुल रॉय शुक्रवार को अपने बेटे सुभ्रांशु रॉय के साथ एक बार फिर से तृणमूल कांग्रेस में शामिल हो गए हैं।

ममता बनर्जी ने मुकुल रॉय की टीएमसी में वापसी का खुले दिल से स्वागत करते हुए कहा कि अभी तो भाजपा से और अधिक लोग बाहर निकलेंगे और वापस तृणमूल कांग्रेस में शामिल होंगे।

TMC के अखिल भारतीय महासचिव अभिषेक बनर्जी ने रॉय और उनके बेटे की तृणमूल में वापसी पर उनका स्वागत (Mukul Roy rejoin TMC-left BJP)किया।

 

 

एजेंसियों के द्वारा भगवा पार्टी ने रॉय पर दबाव डाला था

ममता बनर्जी(Mamata Banerjee) ने इस अवसर पर कहा, मुकुल (रॉय) हमारे पुराने सदस्य हैं और वह अब वापस आ गए(Mukul Roy rejoin TMC-left BJP) हैं।

वह भाजपा में अच्छी स्थिति में नहीं थे क्योंकि भगवा पार्टी ने एजेंसियों के माध्यम से उन पर दबाव बनाया था, परिणामस्वरूप वह मानसिक तौर पर शांत नहीं थे।

मैं देख रही हूं कि उनकी तबीयत भी खराब हो गई थी, क्योंकि कोई भाजपा में नहीं रह सकता।

भाजपा एक हृदयहीन पार्टी है और कोई भी इंसान वहां नहीं रह सकता है।

वर्ष 2017 में तृणमूल कांग्रेस छोड़ने वाले रॉय ने कहा, मुझे फिर से परिचित लोगों के बीच होने का अच्छा अहसास हो रहा है।

इसमें एक तरह का घरेलू माहौल है। मुझे विश्वास है कि हमारी नेता और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के नेतृत्व में पश्चिम बंगाल एक बार फिर शीर्ष पर पहुंचेगा।

 

 

रॉय ने बीजेपी में रहकर भी हमारे खिलाफ कुछ न बोला

जब यह पूछा गया कि आखिर तृणमूल में मुकुल रॉय की वापसी क्यों हुई?

TMC के पूर्व अखिल भारतीय महासचिव ने कहा, मैं फिर से भाजपा के लिए काम नहीं करूंगा, इसलिए मैं यहां वापस आ गया हूं।

भाजपा में रहते हुए भी रॉय के साथ किसी भी तरह के मतभेद से इनकार करते हुए ममता बनर्जी ने कहा, यहां तक कि जब वह भाजपा में थे, तब भी उन्होंने मेरे या पार्टी के खिलाफ कभी कुछ नहीं कहा।

वह हमेशा हमारी पार्टी के नेताओं के साथ अच्छे रहे हैं। यहां तक कि जब चुनाव थे, तब भी वह हमारी पार्टी के बारे में चुप थे।

 

 

ममता ने कहा-गद्दारों को छोड़ सबका स्वागत

ममता बनर्जी ने संकेत दिया का अभी बीजेपी से कुछ और लोग टीएमसी में आ सकते है।

उन्होंने कहा कि, तृणमूल शांत और सौम्य सभी लोगों का स्वागत करेगी।

लेकिन कुछ लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने चुनाव से पहले पार्टी को धोखा दिया और तृणमूल नेताओं को बदनाम किया।

वे विश्वासघाती हैं और पार्टी उन्हें कभी स्वीकार नहीं करेगी।

भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष मुकुल रॉय के पार्टी छोड़कर तृणमूल कांग्रेस में शामिल होने पर भगवा दल के नेताओं ने अलग-अलग प्रतिक्रिया दी है।

प्रदेश भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा है कि मुकुल रॉय की वजह से भाजपा को कुछ खास फायदा नहीं हुआ, इसलिए उनके जाने से न तो पार्टी को कोई फायदा होने वाला है, न नुकसान।

भाजपा नेता ने कहा कि हजारों भाजपा कार्यकर्ता पार्टी को मजबूत करने के लिए अपने घरों से बाहर हैं जो मेरे लिए अधिक महत्वपूर्ण हैं।

इस बीच, प्रदेश भाजपा प्रवक्ता जय प्रकाश मजूमदार ने राय को पुरानी पार्टी में उनकी नई पारी के लिए शुभकामनाएं दीं।

 

 

Mukul Roy rejoin TMC-left BJP

 

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन www.samaydhara.com के को-फाउंडर और बिजनेस हेड है। लेखन के प्रति गहन जुनून के चलते उन्होंने समयधारा की नींव रखने में सहायक भूमिका अदा की है। एक और बिजनेसमैन और दूसरी ओर लेखक व कवि का अदम्य मिश्रण धर्मेश जैन के व्यक्तित्व की पहचान है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

fifteen − 8 =

Back to top button