breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें
Trending

गुजरात-शाकाहारी बनाम मांसाहारी, सरकार ने फैसले से पल्ला झाड़ा

राज्य भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल ने कहा कि 'किसी ने भी ऐसा निर्णय नहीं लिया है' और 'NonVeg पर कोई कानूनी प्रतिबंध नहीं है'

Gujarat Veg vs NonVeg War

गुजरात (समयधारा) : अहमदाबाद में नॉन-वेज आइटम (non-vegetarian items) पर बैन का सख्त विरोध हो रहा है l 

कई संघठनों ने खाने पर पाबंदी को लेकर गहरा रोष प्रकट किया l

इस बीच राज्य भाजपा अध्यक्ष सीआर पाटिल ने कहा कि ‘किसी ने भी ऐसा निर्णय नहीं लिया है’ और ‘उन पर कोई कानूनी प्रतिबंध नहीं है’।

खुला करतारपुर कॉरिडोर जाने क्या है यात्रा के नए नियम

भाजपा प्रदेश मुख्यालय में मीडिया को संबोधित करते हुए सीआर पाटिल ने आगे कहा कि

जिस मंत्री ने कहा था कि इस तरह के मांसाहारी भोजन स्टालों के कारण अतिक्रमण है,

उन्हें सूचित किया गया है कि ऐसी गाड़ियों को रोकने की कोई योजना नहीं है l 

इससे पहले,

गुजरात के अहमदाबाद (Ahmedabad) शहर में अब सड़को के किनारे मीट या कोई भी नॉन-वेज आइटम (non-vegetarian items) नहीं बिकेंगे।

World News : अमेरिका को पीछे छोड़ चीन बना विश्व का सबसे अमीर देश

अहमदाबाद के नगर निमग ने सड़क किनारेनॉन-वेज आइटम्स बेचने वाले स्टॉल को अनुमति नहीं देने का फैसला किया है।

अहमदाबाद नगर निगम की टाउन प्लानिंग कमेटी के अध्यक्ष देवांग दानी ने कहा, Gujarat Veg vs NonVeg War

“सार्वजनिक सड़कों और स्कूलों, कॉलेजों और धार्मिक स्थलों के 100 मीटर के दायरे में मांसाहारी सामान बेचने वाले स्टालों की अनुमति नहीं होगी।”

Poorvanchal Expressway : कल मोदी-योगी तो आज अखिलेश का जलवा

दानी ने कहा कि यह फैसला टाउन प्लानिंग कमेटी की तरफ से लिया गया है और कल (मंगलवार) से प्रभावी होगा।

वहीं गुजरात के सीएम भूपेंद्र पटेल ने कहा कि यह शाकाहारी और मांसाहारी का सवाल नहीं था। उन्होंने “लोग जो चाहें खाने के लिए स्वतंत्र हैं।

लेकिन स्टालों पर बेचा जा रहा भोजन हानिकारक नहीं होना चाहिए और स्टालों को यातायात के प्रवाह में बाधा नहीं डालनी चाहिए।”

इससे पहले गुजरात के राजकोट नगर निगम ने सार्वजनिक रूप से अंडा और मांसाहारी ट्रकों के खड़ा करने पर रोक लगाई थी।

इसके बाद वडोदरा, भावनगर, जामनगर, जूनागढ़ नगर निगम ने भी अंडे से जुड़े आइटम वाले लॉरी को सड़क किनारे खड़े होने पर रोक लगाई थी।

Wednesday Thoughts : कटीली झाड़ियों पर ठहरी हुई बूंदों ने बस यही बताया है…

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

five × one =

Back to top button