breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

Jammu-Kashmir में आतंकियों के हौंसले बुलंद,नहीं थम रही टारगेट किलिंग,टीचर की हत्या के बाद 100 से ज्यादा कश्मीरी पंडितों ने छोड़ी घाटी:रिपोर्ट

कश्मीरी घाटी में कश्मीरी पंडितों(Kashmiri Pandits) को अपनी जान का डर सता रहा है।उन्होंने केंद्र सरकार से गुहार भी लगाई कि उन्हें जितना जल्दी हो सकें सुरक्षित स्थान पर भेज दें वर्ना वह खुद पलायन करेंगे।इसके लिए कश्मीरी पंडितों ने सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया था।

Jammu-Kashmirterrorism-continues-more-than-100-Kashmiri-Pandits-left-valley

जम्मू-कश्मीर(Jammu-Kashmir)में आंतकवादियों(Terrorists)के हौंसले इतने बुलंद हो गए है कि उनकी गोली पर कश्मीर का हर बाशिंदा है। फिर चाहे वह हिंदू हो या मुसलमान।

बीते दिनों जहां कश्मीरी टीवी एक्ट्रेस अमरीन भट की हत्या की गई तो उसके बाद कश्मीर घाटी(Kashmir Valley) के कुलगाम में मंगलवार को एक कश्मीरी हिंदू शिक्षिका रजनी बाला को भी सरेआम उनके स्कूल के बाहर गोली मार दी गई,जिसके बाद से कश्मीरी घाटी में कश्मीरी पंडितों(Kashmiri Pandits) को अपनी जान का डर सता रहा है।

उन्होंने केंद्र सरकार से गुहार भी लगाई कि उन्हें जितना जल्दी हो सकें सुरक्षित स्थान पर भेज दें वर्ना वह खुद पलायन करेंगे।

इसके लिए कश्मीरी पंडितों ने सरकार को 24 घंटे का अल्टीमेटम भी दिया था।

कश्मीर में सरकारी दफ्तर में घुसकर कश्मीरी पंडित राहुल भट की हत्या के बाद से ही कश्मीरी पंडित अपनी जान और इंसाफ की गुहार लगाते हुए काफी दिनों से विरोध-प्रदर्शन पर बैठे है।

लेकिन स्कूल शिक्षिका रजनी बाला की हत्या और कश्मीर के गवर्नर मनोज सिन्हा की ओर से और जानें नहीं जाएंगी,इसकी गारंटी न मिलने के बाद से कश्मीरी पंडितों ने घाटी से पलायन शुरू कर दिया(Jammu-Kashmirterrorism-continues-more-than-100-Kashmiri-Pandits-left-valley-after-teacher-target-killing)है।

आतंकवादियों ने टारगेट किलिंग(target-killing)का सिलसिला जारी रखा हुआ है,जिससे सुरक्षा दिलाने में अभी तक सरकार नाकामयाब रही है,जिसके चलते कश्मीरी पंडितों को अपनी जान का डर सता रहा है।

समाज से जुड़े एक नेता ने बुधवार को यह दावा किया कि मंगलवार से अब तक लगभग 100 से ज्यादा कश्मीर पंडित घाटी छोड़ चुके(Jammu-Kashmirterrorism-continues-more-than-100-Kashmiri-Pandits-left-valley)हैं।

J&K:Kashmiri Pandit घाटी छोड़ें या मौत का करें सामना…पुलवामा में आतंकी संगठन

पिछले महीने घाटी में कार्यरत एक अन्य कश्मीरी पंडित कर्मचारी राहुल भट की हत्या के बाद से ही कर्मचारी सुरक्षित जगहों पर शिफ्ट करने की मांग कर रहे हैं।

बारामुला के एक कश्मीरी पंडित कॉलोनी के अध्यक्ष अवतार कृष्ण भट ने बुधवार को कहा कि मंगलवार से इलाके में रहने वाले 300 परिवारों में से लगभग आधे यहां से चले गए हैं।

उन्होंने कहा, ‘कल की हत्या के बाद से वे डर गए थे। हम भी कल तक चले जाएंगे, फिलहाल हम सरकार के जवाब का इंतजार कर रहे हैं। हमने सरकार से घाटी से बाहर स्थानांतरित करने के लिए कहा(Jammu-Kashmirterrorism-continues-more-than-100-Kashmiri-Pandits-left-valley)था।

 

Jammu-Kashmir: थम नहीं रहा गैर कश्मीरियों का खून बहाने का सिलसिला,आतंकियों ने की दो और बिहारी मजदूरों की हत्या

यहां के बाशिंदों ने दावा किया कि पुलिस ने श्रीनगर के एक इलाके को सील कर दिया है। उन जगहों पर सुरक्षा बढ़ा दी है, जहां कश्मीरी पंडित सरकारी कर्मचारी रहते हैं।

वहीं, स्थानीय प्रशासन ने परिवारों के पलायन को लेकर टिप्पणी के अनुरोध का तुरंत जवाब नहीं दिया, लेकिन उपराज्यपाल मनोज सिन्हा ने पिछले महीने कश्मीरी पंडितों को आश्वासन दिया था कि उनकी सुरक्षा के लिए उपाय किए जाएंगे।

आईजीपी कश्मीर विजय कुमार ने बुधवार को एक अंतरराष्ट्रीय समाचार एजेंसी को बताया कि हमने उन सभी आतंकवादियों को मार गिराया है, जो पहले हुई हत्याओं के लिए जिम्मेदार थे।

8 Years of Modi led BJP Government: राफेल डील से तीन कृषि कानूनों तक,भाजपा सरकार के 9 विवादित निर्णय

Jammu-Kashmirterrorism-continues-more-than-100-Kashmiri-Pandits-left-valley
(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button