breaking_newsअन्य ताजा खबरेंअपराधदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति
Trending

Manipur हैवानियत पर सुप्रीम कोर्ट की सरकार को फटकार-CJI ने कहा- आप कार्रवाई करें वर्ना हम खुद एक्शन लेंगे

केंद्र और राज्य सरकार इस पर फौरन कार्रवाई करें और अब तक क्या कार्रवाई की,हमें सूचित करें। शीर्ष अदालत ने कहा कि अगर सरकार इस पर कार्रवाई नहीं करती तो हम करेंगे।

Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central

नई दिल्ली:मणिपुर(Manipur)की दो आदिवासी महिलाओं के यौन उत्पीड़न की भयावह घटना का वीडियो वायरल(Manipur-Video-women-paraded-naked-raped)होने के एक दिन बाद, सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court)ने घटना पर स्वत: संज्ञान लिया।

केंद्र और राज्य सरकार इस पर फौरन कार्रवाई करें और अब तक क्या कार्रवाई की,हमें सूचित करें।

शीर्ष अदालत ने कहा कि अगर सरकार इस पर कार्रवाई नहीं करती तो हम(Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central- Government-Act now…otherwise)करेंगे।

Manipur Violence-2 women-paraded-naked- publicly-gang-raped-video-viral-Tension-high
मणिपुर में दो महिलाओं को नग्न कर गैंगरेप वीडियो वायरल

सुप्रीम कोर्ट की ओर से बोलते हुए भारत के मुख्य न्यायाधीश डीवाई चंद्रचूड़(DY Chandrachud)ने कहा, ‘कल सामने आए वीडियो से हम बहुत परेशान हैं।’

छावला रेप मर्डर केस: सुप्रीम कोर्ट ने दोषियों को किया रिहा-पीड़िता के मां-बाप टूटे,कहा-गरीब का कोई नहीं, हमें न्याय नहीं मिला

अदालत ने टिप्पणी की, ‘मीडिया में दिखाई देने वाले दृश्य घोर संवैधानिक उल्लंघन और मानवाधिकारों के उल्लंघन का संकेत देते हैं,’ साथ ही उन्होंने कहा कि ‘उत्तेजित माहौल में हिंसा के साधन के रूप में महिलाओं का उपयोग संवैधानिक लोकतंत्र में अस्वीकार्य है।’

सीजेआई ने यह भी टिप्पणी की कि इस तरह की लिंग आधारित हिंसा पहले नियंत्रण के साधन के रूप में होती थी, लेकिन लोकतंत्र में यह ‘बिल्कुल स्वीकार्य नहीं'(Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central)है।

‘हमारा विचार है कि अदालत को अपराधियों को पकड़ने के लिए उठाए गए कदमों से अवगत कराया जाना चाहिए,’ पीठ ने कहा, ‘उन्हें पता है कि वीडियो 4 या 5 मई का है।’

सीजेआई ने कहा, ‘हिंसा में महिलाओं को एक हथियार के रूप में इस्तेमाल करना सबसे बड़ा मानवाधिकार और संवैधानिक उल्लंघन है।’

कोर्ट ने राज्य सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार से भी घटना पर विस्तृत रिपोर्ट मांगी है.

शादीशुदा हो या कुंवारी सभी महिलाओं को गर्भपात का अधिकार,पति द्वारा जबरन संबंध ‘मैरिटल रेप’ है:सुप्रीम कोर्ट का ऐतिहासिक फैसला

सीजेआई ने आगे टिप्पणी की, ‘हम सरकार को कार्रवाई करने के लिए कुछ समय देंगे, या हम कार्रवाई करेंगे… यह बहुत परेशान करने वाला (Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central- Government-Act now…otherwise)है।’

सुनवाई के लिए भारत के अटॉर्नी-जनरल और भारत के सॉलिसिटर जनरल दोनों अदालत कक्ष में मौजूद थे।

सीजेआई ने कहा कि सरकार के दो वरिष्ठतम कानून अधिकारियों को इस मामले के लिए अदालत में बुलाया गया था क्योंकि सुप्रीम कोर्ट ‘कुल मिलाकर बहुत परेशान था’।

सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने भी टिप्पणी की कि यह घटना परेशान करने वाली है. ‘हम सहमत हैं कि यह अस्वीकार्य है।

कदम उठाए जा रहे हैं…” एसजी ने सीजेआई चंद्रचूड़, न्यायमूर्ति पीएस नरसिम्हा और न्यायमूर्ति मनोज मिश्रा की पीठ को सूचित(Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central)किया।

अब इस केस की सुनवाई आगामी शुक्रवार 28 जुलाई 2023 को होगी।

 

Bilkis Bano Case:बिलकीस बानो गैंगरेप दोषियों की रिहाई के खिलाफ आज सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई

 

 

 

 

मणिपुर में दो महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाया गया और गैंगरेप किया गया

सोशल मीडिया(Social Media)पर इन दिनों मणिपुर का वह शर्मनाक,ह्दयविदारक वीडियो वायरल हो रहा है,जिसमें कुकी समुदाय की दो महिलाओं को सैंकड़ों की भीड़ नग्न करके,उनके प्राइवेट पार्ट्स को छूती हुई घुमा रही है और महिलाएं रो…बिलख रही है….लेकिन हैवानियत का नंगा नाच कर रहे हैवान को उनपर न तरस आ रहा है और न ही शर्म।

यह घटना मणिपुर में चार मई की है लेकिन अब जाकर इसका वीडियो वायरल हुआ है और केंद्र और राज्य सरकार अपनी कुंभकर्णी नींद से अब जागी है।

वीडियो वायरल होने तक किसी भी आरोपी को गिरफ्तार नहीं किया गया था। हालांकि सुप्रीम कोर्ट(Supreme Court) के स्वत: संज्ञान के बाद अब आज चार आरोपियों को गिरफ्तार करने का दावा किया जा रहा है।

सोशल मीडिया पर मणिपुर की हैवानियत का वीडियो देखकर पूरा देश गुस्से में है और शर्मसार है। पीएम मोदी ने भी अब जाकर इस पर अपनी चुप्पी तोड़ी है और कहा है कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

निर्वस्त्र की गई महिलाएं कुकी समुदाय से है और मैतेई समुदाय के लोग उनके साथ हैवानियत कर रहे है। इन दिनों मणिपुर जातीय हिंसा(Manipur Violence)की आग में झुलस रहा है। इन दोनों समुदाय के बीच आरक्षण को लेकर मणिपुर में दरिंदगी,आगजनी और हैवानियत चरम पर है।

आदिवासी संगठन डिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम ने न्याय की मांग करते हुए आरोपियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की है।

आदिवासी संगठन इंडिजिनस ट्राइबल लीडर्स फोरम ने दोषियों के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है।

 

नुपूर शर्मा ने देश में भावनाओं को भड़काया है,टीवी पर आकर माफी मांगे,Delhi में FIR का क्या हुआ?:सुप्रीम कोर्ट की फटकार

 

 

 

Supreme-Court-on-Manipur-Video-women-paraded-naked-raped-CJI-warns-Central

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button