breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Udaipur हत्याकांड के आरोपी रियाज का BJP के साथ कनेक्शन!कांग्रेस ने जारी की फोटोज,BJP ने खारिज किए आरोप

कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि दर्जी कन्हैयालाल की हत्या के मुख्य आरोपियों में से एक "बीजेपी सदस्य" है. आरोप लगाते हुए पार्टी ने पूछा कि क्या केंद्र ने मामले को रफादफा करने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) को स्थानांतरित कर दिया था?

Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations

नई दिल्ली:नुपूर शर्मा(Nupur Sharma)के समर्थन में पोस्ट पर उदयपुर में कन्हैया लाल दर्जी की हत्या(Udaipur tailor murder)के कारण अभी तक देश और उदयपुर की जनता दुख और आक्रोश से उबरी भी नहीं है कि अब इस हत्याकांड में एक सनसनीखेज खुलासा हो रहा है।

दरअसल,सोशल मीडिया पर दर्जी कन्हैया लाल की हत्या को अंजाम देने वाले मुख्य हत्यारे रियाज अटारी की भाजपा नेताओं के साथ फोटोज वायरल हो रही(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-viral)है।

कांग्रेस ने इन फोटोज को सोशल मीडिया पर  शेयर करते हुए भाजपा पर हल्लाबोल किया है कि दर्जी के हत्यारे रियाज की फोटोज भाजपा नेताओं के साथ होना दिखाता है कि रियाज अटारी का भाजपा से कनेक्शन(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations)है

और हत्यारे के साथ कथित राज न खुल जाएं क्या इसी डर से केंद्र ने तुरंत यह केस एनआईए को सौंपा है,जिसका हमने स्वागत भी किया है।

लेकिन उदयपुर हत्याकांड के आरोपी की फोटोज भाजपा नेताओं के साथ होना बहुत कुछ बयां कर रहा है।

कांग्रेस प्रवक्ता पवन खेड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर दावा किया कि रियाज अटारी राजस्थान में भाजपा के कद्दावर नेता और पूर्व गृह मंत्री गुलाब चंद्र कटारिया के कई कार्यक्रमों में शामिल हुआ(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations)था।

उन्होंने कहा कि रिसर्च करने पर पता चला कि फेसबुक पर भाजपा के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ के नेता इरशाद चैनवाला ने 30 नवंबर 2018 को पोस्ट किया था और रियाज को पार्टी का कार्यकर्ता बताया था।

केंद्र सरकार पर बरसते हुए पवन खेड़ा ने पुलवामा हमले(Pulwama Attack) का भी जिक्र किया।

कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि इरशाद ही नहीं, एक और भाजपा नेता मोहम्मद ताहिर हैं जिनका मोबाइल अब बंद आ रहा है।

ताहिर के 3 फरवरी 2018, 27 अक्टूबर 2019 और 10 अगस्त 2021, 28 अगस्त 2019 के पोस्ट की स्टडी की गई।

भाजपा नेता मोहम्मद ताहिर का एक फेसबुक पोस्ट पढ़ते हुए खेड़ा ने कहा, ‘ये हमारे बीजेपी कार्यकर्ता उदयपुर, राजस्थान के रियाज अटारी भाईजान ने हमारे वतन हिंदुस्तान में अमन के लिए दुआएं कर…अल्लाह हमारे हिंद को सलामत रखे। आमीन।’

Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations

Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations

नुपूर शर्मा ने देश में भावनाओं को भड़काया है,टीवी पर आकर माफी मांगे,Delhi में FIR का क्या हुआ?:सुप्रीम कोर्ट की फटकार

 

पुलवामा का भी जिक्र, तब राष्ट्रहित में जांच नहीं

खेड़ा ने कहा कि ताहिर कह रहे हैं अटारी के लिए कि वह उमरा करने के लिए गए और देश के लिए दुआ मांगी। भाजपा का कार्यकर्ता रियाज अटारी पूर्व गृह मंत्री के कार्यक्रमों में शामिल होता(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations)है।

भाजपा के स्थानीय नेता ‘रियाज भाई हमारे भाजपा कार्यकर्ता’ कहकर संबोधित करते हैं।

कांग्रेस प्रवक्ता यहीं तक नहीं रुके। उन्होंने कहा, ‘ये चल क्या रहा इस देश में… माजरा क्या है।

पुलवामा में सवाल उठे थे कि साढ़े तीन सौ किलो RDX कैसे पहुंचा।

डीएसपी दविंदर सिंह का नाम हम सब जानते हैं। उसे चुपचाप नौकरी से बाहर कर दिया कि राष्ट्रहित में नहीं है उसके खिलाफ जांच करना… ये क्या हो रहा है इस देश में।

कौन करवा रहा है ये सब। एक के बाद एक हमले, घटनाएं हो रही हैं कोई उत्तर नहीं। प्रधानमंत्री और गृह मंत्री चुप हैं।’

BJP ने आरोप किए खारिज

बीजेपी ने शनिवार को राजस्थान के उदयपुर में बीते दिनों दर्जी की निर्मम हत्या में शामिल हत्यारों में से एक के साथ संबंधों की चर्चा का खंडन(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations)किया।

दरअसल, हत्या के बाद जारी विवाद के बीत राज्य की सत्ताधारी पार्टी कांग्रेस ने सोशल मीडिया एक तस्वीर पोस्ट की थी, जिसमें हत्या में शामिल एक आरोपी बीजेपी नेता के साथ दिख रहा था।

पूरे मामले पर पीसी कर राजस्थान बीजेपी के अल्पसंख्यक शाखा के प्रमुख सादिक खान ने कहा, “हमारा किसी भी आरोपी से कोई संबंध नहीं है. ऐसी जघन्य हत्या राजस्थान में कांग्रेस सरकार की विफलता है।”

 

राहुल गांधी से आज भी ED की पूछताछ,कांग्रेस का हल्लाबोल-BJP के हिमंता सरमा या येदियुरप्पा को क्यों नहीं बुलाती ED?

 

 

 

 

 

 

कांग्रेस ने बीजेपी पर लगाया गंभीर आरोप

कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि दर्जी कन्हैयालाल की हत्या के मुख्य आरोपियों में से एक “बीजेपी(BJP) सदस्य” है। आरोप लगाते हुए पार्टी ने पूछा कि क्या केंद्र ने मामले को रफादफा करने के लिए राष्ट्रीय जांच एजेंसी (NIA) को स्थानांतरित कर दिया था?

बता दें कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पवन खेड़ा ने उदयपुर की घटना के संबंध में एक मीडिया समूह के बहुत सनसनीखेज खुलासे का हवाला दिया, जिसने रियाज अटारी के साथ बीजेपी के संबंधों को दिखाया है।

हालांकि, दावों को बीजेपी के आईटी सेल के प्रमुख अमित मालवीय ने “फर्जी खबर” के रूप में खारिज कर(Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations)दिया।

उन्होंने ट्वीट किया, “मुझे आश्चर्य नहीं है कि आप #FakeNews चला रहे हैं। उदयपुर के हत्यारे बीजेपी के सदस्य नहीं थे।

गौरतलब है कि 48 साल के कन्हैया लाल की मंगलवार को दो लोगों ने हत्या कर दी थी. अपराधियों ने हत्या का वीडियो भी बनाया था, जिसे उन्होंने सोशल मीडिया पर शेयर किया था. 

आरोपियों ने नरेंद्र मोदी को दी थी धमकी

वहीं, बाद में हत्यारोपी रियाज़ अख्तरी और ग़ौस मोहम्मद ने एक और वीडियो डाला जिसमें उन्होंने हत्या करने की बात कबूली और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi)को अगला निशाना बनाने की धमकी भी दी।

फिलहाल दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया है। उनके अतिरिक्त पांच अन्य को हिरासत में लिया गया है। दोनों को 14 दिन की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

पैगंबर मोहम्मद पर BJP नेताओं के बयान को भारत ने कतर में किया खारिज,कहा-अराजक तत्वों के विचार,भारत के नहीं

 

 

(इनपुट एजेंसियों से)

 

Udaipur-Tailor-murderer-Riyaz-photos-with-BJP-leaders-share-by-Congress-BJP-denies-allegations

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button