breaking_newsअन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजहेल्थ
Trending

इस ‘Valentine’ न करें यह जानी-पहचानी गल्ती, नहीं तो आपका दिल चुकाएगा इसकी भारी-भरकम कीमत..!!

Heart Disease Treatment in Hindi

dil ki bimariya aur unka ilaj, heart disease remedies in hindi

नयी दिल्ली, (समयधारा) : क्या आपका अभी-अभी ब्रेकअप हुआ है..?

क्या आपके जीवनसाथी ने आपका साथ छोड़ दिया है…?

क्या आपके पार्टनर से आपका ज्यादा झगड़ा या तनाव जारी है…?

क्या आपका साथी आप को छोड़ जा चुका है ..?  

अगर इनमें से किसी भी चीज से आप ग्रसित है तो यह आर्टिकल आपके लिए ही है l

आपकी मानसिक स्थिति का असर आपके शरीर पर होना लाजिम है l   

हम आज यहाँ आपको दिल से जुड़ीं कुछ महत्वपूर्ण बीमारियों की जानकारी देंगे l 

Heart disease risk जीवनसाथी को खोने की पीड़ा अक्सर लोगों की आंखों की नींद छीन लेती है।

ऐसे लोगों को दिल की बीमारी का खतरा बढ़ जाता है। यह बात हालिया एक शोध में प्रकाश में आई है।

dil ki bimariya aur unka ilaj, heart disease remedies in hindi

जीवनसाथी से बिछुड़े लोगों को अक्सर नींद में खलल की शिकायत रहती है और वे अनिद्रा रोग के शिकार हो जाते हैं।

इससे उनकी शारीरिक पीड़ा बढ़ जाती है। शारीरिक पीड़ा व उत्तेजना अधिक होने पर उनको दिल का दौरा पड़ने का खतरा बना रहता है।

यह बात एक शोध के नतीजों से सामने आई है। यह शोध रिपोर्ट साइकोसोमेटिक मेडिसिल नामक जर्नल में प्रकाशित हुई है।

शोध में पाया गया कि नींद में बाधा और शारीरिक पीड़ा जीवनसाथी से वंचित लोगों में दो से तीन गुनी ज्यादा होती है।

अमेरिका के शिकागो स्थित नॉर्थवेस्टर्न यूनिवर्सिटी फीनबर्ग स्कूल ऑफ मेडिसिन की शोधार्थी चिरिनोस ने कहा,

“जीवनसाथी की मृत्यु काफी तनावपूर्ण घटना होती है। जीवनसाथी को खोने के बाद लोगों को अकेले रहने की आदत डालनी होती है।”

dil ki bimariya aur unka ilaj, heart disease remedies in hindi

उन्होंने कहा, “इससे वे अनिद्रा के शिकार हो जाते हैं, जिससे तनाव दोगुना हो जाता है। इसके फलस्वरूप उनका प्रतिरक्षी तंत्र अत्यधिक सक्रिय हो जाता है।”

( इनपुट समयधारा के पुराने पन्नो से ) 

यह भी पढ़े: सुबह देर से उठने वाली महिलाओं में स्तन कैंसर का खतरा ज्यादा 

यह भी पढ़े:एक मुट्ठी अखरोट की कीमत जान लो दिल्ली वालों, हो जाओंगे निरोगी
यह भी पढ़े:सर्दियों में प्रदूषित वायु से 30 फीसदी बढ़ जाता है स्ट्रोक का खतरा,ऐसे बचें
यह भी पढ़े: क्या आपको भी लगता है सोराइसिस स्किन इंफेक्शन के कारण होता है ..? तो आप गलत है

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

4 × 4 =

Back to top button