breaking_newsअन्य ताजा खबरेंघरेलू नुस्खेडाइटलाइफस्टाइलहेल्थ
Trending

Blood Group के अनुसार बना ले झट से यह डाइट चार्ट, होंगे अनगिनत फायदें

Health Benefits : Diet chart आपके ब्लड ग्रुप के अनुसार, जो आपको रखें ज्यादा स्वस्थ और जवान

health benefit diet chart according to blood group

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए नियमित रूप से स्वस्थ भोजन खाना मनुष्य के लिए बहुत जरूरी होता है।

ऐसे में यदि कहा जाए कि आपको अपने ब्लड ग्रुप के हिसाब से भोजन करना चाहिए तो आप इस बात को अधिक महत्व नहीं देंगे

क्योंकि आप यह नहीं जानते हैं कि आपके ब्लड ग्रुप के हिसाब से बनाया गया एक डाइट चार्ट आपकी सेहत के लिए फ़ायदेमंद साबित होता है। 

World Heart Day 2021:दिखने लगे ये लक्षण, समझ लें हार्ट अटैक के आने वाले है क्षण

World Heart Day 2021:दिखने लगे ये लक्षण, समझ लें हार्ट अटैक के आने वाले है क्षण

तो चलिए आज हम आपको आपके ब्लड ग्रुप के हिसाब से बताते हैं कि आप किस तरह अपने ब्लड ग्रुप के हिसाब से डाइट चार्ट बनवा कर सेहतमंद हो सकते है।

क्यों जरूरी है ब्लड ग्रुप डाइट चार्ट?-

एक शोध के अनुसार, विशेषज्ञों ने यह बताया है कि ब्लड ग्रुप के हिसाब से डाइट चार्ट बनाने से शरीर को उचित मात्रा में आवश्यक तत्व मिलते हैं जिससे सेहत को कई तरह के लाभ पहुंचते हैं।

क्या आपकी गर्लफ्रेंड वर्जिन है? ऐसे पता लगाएं

क्या आपकी गर्लफ्रेंड वर्जिन है? ऐसे पता लगाएं

विशेषज्ञों का कहना है कि सभी प्रकार के भोजन में भिन्न मात्रा में लेक्टिंस पाए जाते है। जो हमारे शरीर को ब्लड ग्रुप के हिसाब से चाहिए होते है।

इसलिए विशेषज्ञों का कहना है कि ब्लड ग्रुप के हिसाब से भोजन में मौजूद लेक्टिंस हमारे शरीर की जरूरत के हिसाब से लेने से ही हम स्वस्थ और सेहतमंद बनते है।

लेक्टिंस 1 प्रोटीन होता है जो भिन्न प्रकार के ब्लड ग्रुप के साथ मिलकर भिन्न तरीके से प्रतिक्रिया करता है।

 

कैसे होता है इसका प्रभाव (Alert! Corona की दूसरी लहर नहीं हुई खत्म,त्योहारों में बरतें सावधानी-स्वास्थ्य मंत्रालय)

Alert! Corona की दूसरी लहर नहीं हुई खत्म,त्योहारों में बरतें सावधानी-स्वास्थ्य मंत्रालय

भोजन में मौजूद लेक्टिंस नामक प्रोटीन चिपकने वाला होता है।

भोजन में मौजूद कुछ ऐसे लेक्टिंस होते है जो हमारे ब्लड ग्रुप से मेल नहीं खाते हैं वे हमारे शरीर मे जाकर नुकसान पहुंचाते हैं जिसकी वजह से हम अस्वस्थ हो जाते हैं।

अक्सर ऐसा भी होता है कि लेक्टिंस हमारे शरीर के ब्लड ग्रुप से नहीं मिलते है जिसकी वजह से शरीर में सूजन व जलन जैसी समस्याएं आ जाती हैं।

ब्लड ग्रुप के हिसाब से इस तरह बनाए डाइट चार्ट –

‘O’ ब्लड ग्रुप:- ओ’ ब्लड ग्रुप के लिए हाई प्रोटीन की आवश्यकता होती है।

जिसके लिए आपको अपनी डाइट में प्रोटीन को ही अधिक प्राथमिकता देनी चाहिए।

Corona Side Effect-लगातार बढ़ रहा है वजन, कहीं यह अनजानी गंभीर बीमारी तो नहीं..

Corona Side Effect-लगातार बढ़ रहा है वजन, कहीं यह अनजानी गंभीर बीमारी तो नहीं..

जैसे मीट, मछली, सब्जियां और फल, का सेवन आपको अधिक मात्रा में करना चाहिए।

लेकिन अनाज, बीन्स और फलियों का सेवन संतुलित मात्रा में ही करना चाहिए ताकि आप स्वस्थ रह सके।

‘A’ ब्लड ग्रुप:- `ए’ ब्लड ग्रुप वाले लोगों को तो अधिकतर शाकाहारी भोजन ही अपनाना चाहिए।

इस ग्रुप वालों को शाकाहार भोजन जैसे, सब्जियां, सीफूड, फलियां, अनाज, बीन्स और फल पर ही विशेष ध्यान देना चाहिए।

ये सारे खाद्य पदार्थ A ब्लड ग्रुप वाले लोगों को सेहतमंद रखने में सहायक होते है।

इन बड़ी वजहों से आज ही अंकुरित फूड को डायट में करें शामिल

इन बड़ी वजहों से आज ही अंकुरित फूड को डायट में करें शामिल

‘B’ ब्लड ग्रुप:- यदि आप B ब्लड ग्रुप के है तो आप अपने भोजन में सब कुछ शामिल कर सकते हैं।

बी ब्लड वाले लोग खाने के मामले में अधिक भाग्यशाली होते हैं।

लेकिन ऐसे लोग शाकाहार और मांसाहार दोनों ही संतुलित मात्रा में सेवन कर सकते हैं।

मीट, डेयरी प्रोडक्ट, अनाज, फलियां, सब्जियां और फल का सेवन इनके स्वाथ्य के लाइट फायदेमंद रहते हैं।

सबसे जरूरी बात यह है कि उन लोगों के लिए संतुलित भोजन के साथ-साथ नियमित व्यायाम भी बहुत जरूरी है।

‘AB’ ब्लड ग्रुप:- `एबी’ के लिए बिल्कुल मिक्स्ड डाइट होती है। जो भोजन ए और बी ब्लड टाइप वालों के लिए हानिकारक होता है,

क्या आप भी चाय(Tea) दुबारा गरम करके पीते है..? रुकें..? और जरुर पढ़े..

क्या आप भी चाय(Tea) दुबारा गरम करके पीते है..? रुकें..? और जरुर पढ़े..

वह एबी ब्लड ग्रुप वालों के लिए भी उचित नहीं होता है। जिस तरह `ए’ ब्लड टाइप वालों में खाना पचाने की क्षमता कम होती है,

उसी तरह एबी ब्लड टाइप वालों के पेट में खाना पचाने वाले हाइड्रोक्लोरिक अम्ल की कमी होती है।

इस कारण से उन्हें मुर्गा और रेड मीट जैसे भोजन से परहेज करने की सलाह दी जाती है।

इनको संतुलित मात्रा में एनिमल प्रोटीन लेते रहने से परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा।

सीफूड, डेयरी प्रोडक्ट, बीन्स, अनाज, सब्जियां, राजमा, कॉर्न यह सभी वे अपने डाइट प्लान में शामिल कर सकते हैं।

अनानास में पाया जाने वाला ब्रोमेन एन्जाइम उनके लोए बहुत फायदेमंद होता है। यह एनिमल प्रोटीन युक्त खाना पचाने में सहायक है।

घरेलू नुस्खें : कड़ी पत्ता के सेहत से जुड़े इन फायदों के बारे में जानकर दंग रह जाएंगे आप

घरेलू नुस्खें : कड़ी पत्ता के सेहत से जुड़े इन फायदों के बारे में जानकर दंग रह जाएंगे आप

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

16 − four =

Back to top button