breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशये क्याराज्यों की खबरें
Trending

केरल में बाढ़ आई, तो इस जोड़े ने भगोने में बैठकर शादी रचाई,Photo Viral

दरअसल पेशे से स्वास्थ्यकर्मी एक जोड़ा सोमवार को पानी से लबालब भरी सड़कों को पार करने के लिए एल्युमीनियम के एक बड़े बर्तन में बैठकर अपने विवाह स्थल तक पहुंचा और फिर परिजनों की मौजूदगी में दोनों ने शादी रचा ली। यह शादी इतनी यूनिक तरीके से भगोने में बैठ सफर तय करके हुई कि इसकी फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

कहते है सच्चा प्यार किसी आंधी-तूफान का मोहताज नहीं होता और हर बला को पार करके अपनी मंजिल तक पहुंच ही जाता है।

कुछ ऐसा ही केरल में आई भारी बाढ़(Kerala-flood)के दौरान हुआ है।

दरअसल,केरल(Kerala)में भारी बारिश के बाद बाढ़ और भूस्खलन होने से अभी तक न जाने कितने लोगों के घर उजड़ गए और संसार बिखर गए।

इन सभी दर्दनाक घटनाओं के बीच एक सुखद घटना भी हुई है।

सोमवार को एक दूल्हे-दुल्हन(Bride-Groom)ने शादी के बंधन में बंधने(Marriage)के लिए एक भगोने(खाना पकाने का बड़ा बर्तन) में बैठकर विवाह स्थल तक पहुंचने का सफर तय(bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils)किया।

दरअसल पेशे से स्वास्थ्यकर्मी एक जोड़ा सोमवार को पानी से लबालब भरी सड़कों को पार करने के लिए एल्युमीनियम के एक बड़े बर्तन में बैठकर अपने विवाह स्थल तक पहुंचा और फिर परिजनों की मौजूदगी में दोनों ने शादी रचा ली।

यह शादी इतनी यूनिक तरीके से भगोने में बैठ सफर तय करके हुई कि इसकी फोटोज सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

पत्नी नहाती नहीं, इसलिए पति ने मांगा तलाक,जानें क्या कहा कोर्ट ने

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

थलावडी में एक मंदिर के निकट जलमग्न शादीघर में दोनों जोड़े ने शादी की। इस शादी में बेहद गिनती के रिश्तेदार आए थे।

आकाश और ऐश्वर्या नामक इस जोड़े का शादी करने के लिए भगोने में बैठकर जाने का फोटो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

नवविवाहित जोड़ों ने बताया कि कोविड-19 महामारी की वजह से उन्होंने कम ही रिश्तेदारों को आमंत्रित किया था।

उन्होंने बताया कि उनकी शादी सोमवार को तय थी और शुभ मुहुर्त की वजह से वे इसे टालना नहीं चाहते थे।

बाप रे बाप..! आधे से ज्यादा लोग रोजाना नहीं बदलते अंडरगारमेंट्स

उन्होंने बताया कि वे कुछ दिन पहले मंदिर आए थे और तब वहां बिल्कुल पानी नहीं भरा था।

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

पिछले दो दिनों में भारी बारिश की वजह से यहां पानी भर गया। दोनों स्वास्थ्यकर्मी हैं और चेंगन्नूर के एक अस्पताल में काम करते हैं।

आकाश ने पीटीआई से बात करते हुए कहा कि उनका एक अंतरजातीय रिलेशनशिप था जिसका ऐश्वर्या के एक चाचा ने विरोध किया था और इसलिए, उन्होंने 5 अक्टूबर को कोर्ट से शादी की।

इसके बाद, उन्होंने बिना किसी देरी के हिंदू रीति-रिवाजों के अनुसार शादी करने का फैसला किया, लेकिन यहां के थाकाजी में उनके घर के पास के अधिकांश मंदिरों में शादी के लिए 15 दिन पहले से बुकिंग की बात कर रहे थे।

मुझे सौतेली मम्मा चाहिए…जानें क्यों इस बच्ची ने की पापा से ये डिमांड-Viral हुआ Video

अंत में, उन्हें थलावडी में एक मंदिर मिला, जो सोमवार को विवाह समारोह की मेजबानी करने के लिए सहमत हो गया।

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

दोनों कपल COVID ड्यूटी पर तैनात

उन्होंने कहा कि रविवार को मंदिर के किसी व्यक्ति ने उन्हें फोन करके पूछा था कि क्या वह शादी को स्थगित करने को तैयार हैं क्योंकि कार्यक्रम स्थल पानी से भर गया था।

लेकिन वे दोनों स्वास्थ्य कार्यकर्ता हैं जो COVID ड्यूटी पर हैं ऐसे में उनको खुद नहीं पता था कि अब उन्हें शादी करने के लिए कब छुट्टी मिलेगी। इसलिए उन्होंने इसे स्थगित नहीं करने का फैसला किया।

इसके बाद मंदिर के अधिकारियों ने कहा कि वे उन्हें कार्यक्रम स्थल तक पहुंचाने के लिए जरूरी व्यवस्था करेंगे।

दुल्हन की डिमांड-चाहिए वैक्सीन लगवा चुका दूल्हा! सोशल मीडिया पर वायरल विज्ञापन

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

सोमवार को, जब वे थलावडी पहुंचे, तो लोग दूल्हा-दुल्हन और उनके साथ आए परिवार के कुछ सदस्यों को लाने के लिए खाना पकाने के बर्तन, जो मंदिर के ही थे, के साथ तैयार थे।

आकाश ने कहा कि इतने कम समय में उनके पास यही एकमात्र विकल्प उपलब्ध था। एक गहरे बर्तन में दोनों बैठ गए और कुछ लोग उसको पकड़कर मंदिर परिसर पहुंचे ताकि वह पलटे न।

आकाश ने कहा कि वह उनको बर्तन में बैठने में हिचकिचाहट नहीं हुई क्योंकि बारिश के दौरान वहां अक्सर ऐसे उपाय किए जाते रहे हैं।

उसने साल 2018 में बाढ़ के दौरान में घरों में फंसे लोगों को निकालने के लिए इस तरह के उपाय को देखे थे।

bride-and-groom-came-to-get-married-sitting-in-the-cooking-utensils during-Kerala-flood-pic-viral

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 3 =

Back to top button