breaking_newsअन्य ताजा खबरेंघरेलू नुस्खेफैशनलाइफस्टाइलहेल्थ
Trending

indigestion home remedies:गैस,अपच,एसिडिटी से है परेशान? ऐसे पाएं तुरंत आराम

अगर आप अपने भोजन में कुछ ऐसे घरेलू उपाय या ड्रिंक्स शामिल कर लें,जिनसे आपको एसिडिटी या अपच से तुरंत छुटकारा मिल जाएं,तो आपको इनडाइजेशन की समस्या नहीं होगी।

indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi

आजकल के लाइफस्टाइल में पेट की समस्या आम हो चली है। खान-पान की गलत आदतें, बे-टाइम खाना-सोना,हेल्दी न खाना…इन सब आदतों के कारण लोगों को अक्सर अपच(indigestion),गैस,कब्ज और एसिडिटी(acidity)की समस्या का सामना करना ही पड़ता है।

फिर चाहे इनसे छुटकारे के लिए आप कितनी ही डाइजेशन(Digestion) की दवाइयां खा लें या फिर इनडाइजेशन के इलाज(indigestion treatment)करा लें,सभी से आपको बस पलभर के लिए ही आराम मिलता है।

लेकिन हमेशा के लिए इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए इन्हें जड़ से खत्म करना बहुत जरुरी(how to cure indigestion fast)है।

लौंग(Clove) के यह ढेर सारे फायदे खोल देंगे आपकी सेहत के बंद तालें

इसलिए इनडाइजेशन यानि अपच के इलाज में सबसे कारगर उपाय आपको आयुर्वेद में मिल सकता है।

इसके लिए आप अपने पाचनतंत्र को सिर्फ स्वास्थ्यवर्धक खिलाएं और मजबूत पाचनतंत्र पाएं।

अगर आप अपने भोजन में कुछ ऐसे घरेलू उपाय या ड्रिंक्स शामिल कर लें,जिनसे आपको एसिडिटी या अपच से तुरंत छुटकारा मिल जाएं,तो आपको इनडाइजेशन की समस्या नहीं होगी।

indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi

दरअसल,अपच के लिए आयुर्वेदिक ड्रिंक्स काफी फायदेमंद हो सकती हैं।

अपच या कब्ज या फिर एसिडिटी की समस्या आपको हो ही नहीं,इसके लिए जरुरी है कि आप सिर्फ भूख लगने पर ही खाना-खाएं। आयुर्वेद भी यही सलाह देता है। अपने दिनभर के भोजन के मध्य कम से कम तीन घंटे का गैप जरुर रखे।

क्या सर्दियों में केला खाना चाहिए? रात के समय केले का सेवन फायदेमंद है या नहीं?

इसलिए जरुरी है कि आप अपने पाचन तंत्र को स्ट्रॉन्ग रखने के लिए कुछ हेल्दी ड्रिंक्स पिएं।

दरअसल, आयुर्वेद में आपको अपच की समस्या से निजात के लिए बहुत अच्छे नुस्खे मिलते है।

तो चलिए अब आपको बताते(indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi )है।

remedies for-leg-Body-pain:सर्दी में पैर और शरीर के दर्द से है बेहाल?ये घरेलू नुस्खे करेंगे कमाल

अपच की समस्याओं से छुटकारे के लिए अपनाएं ये हेल्दी ड्रिंक्स

indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi

-अपच के लिए करें ये उपाय

आमतौर पर अपच का कारण बनने वाले खाद्य पदार्थों में डेयरी उत्पाद या चावल, या कच्ची सब्जियां जैसे अनाज शामिल हैं।

मूल रूप से, पेट को पचाने के लिए कड़ी मेहनत करने वाली कोई भी चीज अपच का कारण बन सकती है।

अपच से राहत पाने के लिए, आप कुछ लहसुन लौंग और तुलसी के पत्तों को 1/4 कप व्हीटग्रास के रस में मिला सकते हैं और दिन में एक बार पी सकते हैं।

-तुलसी, सौंफ के बीज और कुछ मसाले

सौंफ के बीज, तुलसी के पत्ते और लौंग मिलकर एसिड रिफ्लक्स से निपटने में मदद कर सकते हैं। 3/4 कप पानी में एक चौथाई कप दही डालें और अच्छी तरह मिलाएं।

एसिड रिफ्लक्स को कम करने के लिए 1 टीस्पून सेंधा नमक, चुटकी भर जीरा पाउडर, कुछ पिसे हुए अदरक और ताजा धनिया पत्ती डालें। छाछ एसिड रिफ्लक्स के इलाज में भी मदद कर सकता है।

रात में पी लें ये सौंफ और दूध,शादीशुदा जिंदगी का हर दुख होगा दूर

 

indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi

-कब्ज के लिए घी, नमक और गर्म पानी

यह पेय आंतों के अंदर की चिकनाई के लिए फायदेमंद है. इस आयुर्वेदिक टॉनिक में नमक बैक्टीरिया को दूर करने में मदद कर सकता है।

घी में ब्यूटिरेट एसिड पाचन में सुधार के लिए एंटी इंफ्लेमेटरी लाभ प्रदान करता है। इसे तैयार करने के लिए, आप 1 और 1/4 कप गर्म पानी में 1 चम्मच ताज़ा घी मिला सकते हैं।

इसमें 1/2 नमक डालें और हिलाएं. इस ड्रिंक को धीरे-धीरे पिएं। रात के खाने के एक घंटे बाद इसका सेवन करना प्रभावी होता है।

घरेलू वियाग्रा से बनो किसी भी उम्र में ताकतवर-शक्तिशाली-फौलादी

-पेट में भारीपन या ब्लोटिंग के लिए गर्म पानी और सौंफ के बीज या अदरक

ब्लोटिंग से जुड़ी समस्याओं से गर्म पानी से प्रभावी तरीके से निपटा जा सकता है। एक गिलास गर्म पानी के साथ सौंफ के बीज, और कुछ अदरक और शहद की एक बूंद प्रभावी रूप से सूजन से निपटने में मदद कर सकती है।

इसके अलावा, भोजन के बाद बस सौंफ के बीज चबाने से पाचन में मदद मिल सकती है और गैस और सूजन कम हो सकती है।

यह चमत्कारी ड्रिंक आपके मोटापे को चुटकियों में कर देंगा गायब

-दस्त के लिए शानदार उपाय

दस्त के लिए लौकी बहुत कारगर हो सकती है।आप इसे टमाटर या स्टू के साथ तैयार करी के साथ सूप में जोड़ सकते हैं और चावल के साथ खा सकते हैं।

लौकी में कैलोरी कम, पेट पर प्रकाश और पचाने में आसान है। दस्त से पीड़ित होने पर निर्जलीकरण को रोकने में यह काफी कारगर हो सकती है। तरल पदार्थ और पानी का सेवन सहायक हो सकता है।

दस्त के लिए घरेलू आयुर्वेदिक टॉनिक के लिए, आप अदरक को पानी में घोलकर उबाल सकते हैं। इसके बाद एक चुटकी या हल्दी पाउडर मिलाएं।

 

 

 

नोट: यह पोस्ट केवल सामान्य जानकारी के उद्देश्य से लिखी गई है। इसे किसी भी तरह से चिकित्सक के विचार न समझें। इन उपायों को अपनाने से पहले किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर से परामर्श अवश्य लें। समयधारा उनकी सटीकता को प्रमाणित नहीं करता।

 

 

indigestion-home-remedies-acidity-home-remedy-in-hindi

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

3 × one =

Back to top button