Trending

Delhi की हवा हुई बेहद ज़हरीली,कल से प्राइमरी स्कूल बंद,वर्क फ्रॉम होम करेंगे 50 फीसदी सरकारी कर्मचारी

खैर,हर साल की तरह इस साल भी दिल्लीवासियों को वायु प्रदूषण(Delhi air Pollution) का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच चुका है।

Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home

नई दिल्ली:हर साल दिल्ली(Delhi) की आबो-हवा दिवाली(Diwali) के बाद और सर्दी की आहट के साथ ही बेइंतहा प्रदूषित हो जाती है।

जहरीली हवा से दिल्लीवासियों(Delhiites)का दम घुटना शुरू हो जाता है और दिल्ली सरकार(Delhi Govt) व केंद्र (Centre) आपस में सिर्फ सियासत खेलते रहते है।

खैर,हर साल की तरह इस साल भी दिल्लीवासियों को वायु प्रदूषण(Delhi air Pollution) का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। दिल्ली में वायु प्रदूषण खतरनाक स्तर पर पहुंच चुका है।

जिसके चलते केजरीवाल सरकार(Kejriwal Govt) ने आज एलान किया है कि कल यानि 5 अक्टूबर, शनिवार से दिल्ली में प्राइमरी स्कूल बंद रहेंगे(Delhi School) और दिल्ली सरकार के 50% सरकारी कर्मचारी वर्क फ्रॉम होम(Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home)करेंगे।

हालांकि प्राइवेट ऑफिसों (Private Offices) को भी इस नियम का पालन करने की सलाह दिल्ली सरकार की ओर से दी गई है।

Delhi Pollution-दिल्ली के स्कूल अगले आदेश तक एक बार फिर बंद

दिल्ली में वायु प्रदूषण की समस्या से निपटने के लिए केजरीवाल सरकार ने यह कुछ अहम कदम उठाएं है।

दरअसल,दिल्ली सरकार ने ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लान (ग्रेप) के अंतिम चरण के तहत केंद्र की वायु गुणवत्ता समिति द्वारा अनुशंसित प्रतिबंधों को लागू करने का निर्णय लिया है।

दिल्ली के पर्यावरण मंत्री गोपाल राय ने इसकी जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि दिल्ली सरकार ने प्रदूषण-रोधी उपायों के क्रियान्वयन की निगरानी के लिए समिति का गठन किया (Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home- due-to-Delhi-air-pollution)है।

साथ ही दिल्ली सरकार के 50 फीसदी कर्मचारी ‘घर से काम’ (वर्क फ्रॉम होम) करेंगे, निजी कार्यालयों से भी इसका अनुसरण करने की सलाह दी गई है।

 

 

 

ध्यान दें! दिल्लीवालों को 25 अक्टूबर से नहीं मिलेगा पेट्रोल-डीजल जो नहीं दिखाया ये सर्टिफिकेट

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

प्रदूषण से निपटने के लिए दिल्ली सरकार द्वारा उठाए गए कदम

Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home

1.दिल्ली में हॉटस्पॉट्स पर वायु प्रदूषण को रोकने के लिए स्पेशल टास्क फोर्स का गठन किया जाएगा.

2.राजस्व आयुक्त बाजारों और कार्यालयों के लिए समयबद्ध योजना तैयार करेंगे।

 

 

3.50% दिल्ली सरकार के कर्मचारी घर से काम करें, निजी कार्यालयों को भी ये नियम पालन करने की सलाह दी गई(Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home)है।

 

 

4. दिल्ली सरकार ने प्रदूषण विरोधी प्रतिबंधों के कार्यान्वयन की निगरानी के लिए 6 सदस्यीय पैनल का गठन किया है।

 

 

 

 

5. देश की राजधानी दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के स्तर को देखते हुए प्राइमरी स्तर तक के सभी स्कूलों को बंद करने का फैसला लिया गया है. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने आज इसका ऐलान किया है।

ये Best Air Purifier घर और ऑफिस में जहरीली हवा-वायरस से दिलाते है छुटकारा

 

 

आपको बता दें  राष्ट्रीय राजधानी में शुक्रवार को वायु गुणवत्ता ‘गंभीर’ श्रेणी में दर्ज की गई है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) के आंकड़ों के मुताबिक, दिल्ली का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक (एक्यूआई) 9.30 बजे 426 रहा।

भारत मौसम विज्ञान विभाग ने कहा कि सुबह 8.30 बजे सापेक्षिक आर्द्रता 92 प्रतिशत थी।

आनंद विहार और जहांगीरपुरी राजधानी में सबसे प्रदूषित स्थान रहे, जहां एक्यूआई क्रमश: 471 और 485 रहा।

जिन क्षेत्रों में ‘गंभीर’ एक्यूआई दर्ज किया गया है, वे हैं-अलीपुर (475), अशोक विहार (470), बवाना (482), बुराड़ी (460), डीटीयू (446), द्वारका (474), आईटीओ (438), मुंडका (476), नरेला (477), नेहरू नगर (482), पटपड़गंज (435), रोहिणी (474), सोनिया विहार (472), विवेक विहार (471) और वजीरपुर (475).

400 से ऊपर का एक्यूआई ‘गंभीर’ माना जाता है और यह स्वस्थ लोगों को प्रभावित कर सकता है और मौजूदा बीमारियों वाले लोगों को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकता है. 

 

Delhi में वाहन मालिकों को भरना पड़ेगा 10,000 रुपये का चालान,जो न हुआ वैध PUC सर्टिफिकेट

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

(इनपुट  एजेंसी के साथ)

Delhi-Primary-school-closed-from-tomorrow-50%-govt-employees-will-work-from-home

Show More

Varsa

वर्षा कोठारी एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। वर्षा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button