breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबीमारियां व इलाजहेल्थ
Trending

 अब 10 अप्रैल से प्राइवेट सेंटरों पर सभी व्यस्कों को मिलेगी कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज:स्वास्थ्य मंत्रालय

जो भी व्यस्क 18 वर्ष से अधिक आयु के हैं और उन्हें दूसरी डोज लगे नौ महीने पूरे हो चुके है,वह एहतियाती खुराक(Precaution dose) के पात्र होंगे।अब कोरोना टीका की तीसरी डोज लगवाने की सुविधा सभी निजी टीकाकरण केंद्रों में उपलब्ध होगी।

COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults- from-10-April

कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज(Corona vaccine third dose)अब सभी व्यस्कों को निजी टीकाकरण केंद्रों यानि प्राइवेट सेंटर्स पर रविवार,10 अप्रैल 2022 से उपलब्ध हो सकेंगी।

हालांकि बूस्टर डोज लेने का फैसला स्वैच्छिक होगा। आपको बता दें कि कोरोना वैक्सीन की तीसरी डोज(Corona vaccine third dose)के लिए आपको पैसा खर्चना होगा।

प्राइवेट सेंटर्स पर यह फ्री में उपलब्ध नहीं होगी।Covishield के निर्माता अदार पूनावाला ने बताया है कि बूस्टर डोज की कीमत 600 रुपये की रहेगी।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने आज,शुक्रवार को एलान किया है कि अब 18 साल से ज्यादा उम्र के सभी व्यस्क 10 अप्रैल 2022 से प्राइवेट अस्तपतालों में भी कोविड टीका की तीसरी  खुराक यानि बूस्टर डोज ले(COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults-from-10-April) सकेंगे।

जो भी व्यस्क 18 वर्ष से अधिक आयु के हैं और उन्हें दूसरी डोज लगे नौ महीने पूरे हो चुके है,वह एहतियाती खुराक(Precaution dose) के पात्र होंगे।

अब कोरोना टीका(Corona vaccine)की तीसरी डोज लगवाने की सुविधा सभी निजी टीकाकरण केंद्रों में उपलब्ध होगी।

सरकार ने कोरोनावायरस(Coronavirus)के खतरे को पूरी तरह खत्म करने और चौथी लहर(Covid 4th wave) की आशंका के चलते इस बड़े फैसले को लिया है।

भले ही इस समय देश में संक्रमण की रफ्तार कम दिख रही है।

रविवार यानी 10 अप्रैल से देश के हर वयस्क नागरिक को कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज लगवाने की सुविधा (COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults- from-10-April)मिलेगी।

यदि कोई व्यक्ति बूस्टर डोज लेना चाहता है तो फिर वह निजी केंद्रों में जाकर लगवा सकता है।

स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी के मुताबिक 18 साल से अधिक आयु का कोई भी व्यक्ति टीका लगवा सकता है।

हालांकि यह बूस्टर डोज लेना अनिवार्य नहीं है। यह पूरी तरह से स्वैच्छिक है। यदि किसी को बूस्टर डोज लेना जरूरी लगता है तो वह लगवा सकता है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि जिन लोगों की आयु 18 साल से अधिक है और दूसरी खुराक लिए हुए 9 महीने से ज्यादा का वक्त बीत गया है, वे प्रीकॉशन डोज ले सकते(COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults- from-10-April) हैं।

यह सुविधा निजी वैक्सीनेशन सेंटर्स पर उपलब्ध होगी।

मंत्रालय ने कहा कि फिलहाल सरकारी केंद्रों पर पहली और दूसरी डोज लगाई जा रही है। इसके अलावा हेल्थकेयर वर्कर्स, फ्रंटलाइन वर्कर्स और 60 साल से ज्यादा आयु वाले लोगों को बूस्टर डोज भी इन केंद्रों पर दी जा रही है।

इसके अलावा अन्य लोग जो भी बूस्टर डोज(Booster dose) लेने के इच्छुक हैं, वे भी निजी वैक्सीनेशन सेंटर्स पर जाकर टीका लगवा सकते(COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults- from-10-April) हैं।

 

COVID वैक्सीन की दोनों डोज कोरोना से मौत में 98 फीसदी सुरक्षा देती है-केंद्र सरकार

 

15+ वाले 96 फीसदी लोगों को लगी है कोरोना वैक्सीन की पहली डोज

देश में 15 साल से अधिक आयु के 96 फीसदी लोगों को कोरोना वैक्सीन(Corona vaccine)की कम से कम एक डोज लग चुकी है। इसके अलावा 83 फीसदी आबादी को दोनों टीके लग चुके हैं।

देश में अब तक 2.4 करोड़ लोग कोरोना वैक्सीन की बूस्टर डोज ले चुके हैं।

इनमें से ज्यादातर लोग हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स हैं। इसके अलावा 60 साल से अधिक आयु के बुजुर्गों ने भी बड़ी संख्या में बूस्टर डोज ली है।

हेल्थ मिनिस्ट्री का कहना है कि 12 से 14 साल की उम्र के 45 फीसदी लोगों को वैक्सीन की पहली डोज लग चुकी है।

 

Cipla अगस्त में लॉन्च करेगी COVID-19 के हल्के लक्षण के लिए दवा,जानें कीमत

इन्हें मिलता रहेगा फ्री टीका

मंत्रालय ने कहा कि सरकार की ओर से फ्री टीकाकरण(Free Vaccination) अभियान पहली और दूसरी डोज के लिए जारी रहेगा।

इसके अलावा 60 साल से अधिक आयु के लोगों और फ्रंट लाइन वर्कर्स को मुफ्त में बूस्टर डोज भी सरकारी केंद्रों में लगती रहेगी।

गौरतलब है कि देश में तेजी से कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेजी से कम हो रही है और अब ऐक्टिव केसों की संख्या 12 हजार से भी कम रह गई है।

https://samaydhara.com/india-news-hindi/who-warns-speaking-difficulty-would-be-new-symptom-of-covid-19/
COVID-vaccine-booster-or-precaution-dose-in-private-centers-available-for-all-adults- from-10-April

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button